मचल ही जाता है प्यार में


आँखों के सपने हजार बार टूटे,
फिर भी दिल धड़क ही जाता है प्यार में.
मेरे दर्द पे वो हजार बार मुस्कराती हैं,
पर दिल भूल ही जाता है उनके दीदार पे.
इश्क़ भी है अपना मरुस्थल जैसा,
जहाँ एक बून्द भी नहीं बारिश की.
पर देख कर हुस्न को,
दिल मयूर सा मचल ही जाता है प्यार में.

 

परमीत सिंह धुरंधर

वो हमें जवान कर गए


वो अपनी मोहब्बत का,
हमपे यूँ सितम कर गए.
हम अब तन्हा – तन्हा रहते हैं,
वो जवान कर गए.
नासमझी थी, या शर्मो – हया,
सब दूरी मिटा के वो सबसे दूर कर गए.
हम अब तन्हा – तन्हा रहते हैं,
वो जवान कर गए.

 

परमीत सिंह धुरंधर

She is Krity Olina


There is no way,
That you ignore her.
There is no way,
That you suppress her.
She is the naughty, sweet,
And the most beautiful girl.
She does not know,
How to swim.
But she knows how to dream.
She is not clever,
But she knows hot to defeat them.
There is no way,
That you distract her.
There is no way,
That you stress her.
She is smart, sweet
And the most beautiful girl.

 

Parmit Singh Dhurandhar

त्रिया-चरित्र


गली – गली में देखा तुझको,
गली – गली में शोर है.
सैयां मेरी आँखों को,
तू लग रहा एक चोर है.
कल से गायब मेरी चुनर हैं,
और चोली भी तंग है.
सैयां मेरी आँखों को,
तू लग रहा एक चोर है.
तू तो हो गयी है वावरी,
उस पड़ोसन की सुन – सुन के.
उसके त्रिया-चरित्र का,
ये सब एक नया झोल हैं.

 

परमीत सिंह धुरंधर

The desire is high


The desire is high,
The fire is on.
I want to solve the equation,
Right now.
Let me break all rules right now.
आँखे मिला के तूने सोनिये,
कर दिया हमको दीवाना है.
अब तो तमन्ना हैं पीने की होंठों को,
बिना इसके होगा मेरा गुजारा नहीं।
The desire is high,
The fire is on.
I want to solve the equation,
Right now.
Let me break all rules right now.

 

Parmit Singh Dhurandhar

मंगलसूत्र


आँखों के सपने आँखों में ही रह गए,
गैर उठा के उनकी डोली ले गए.
आँखों के आंसू होंठों से चख के,
हम अपने ओसारे से देखते ही रह गए.
लाल चुनार ओढा के, मेहँदी लगा के,
गैर उन्हें मंगलसूत्र पहना गए.

 

परमीत सिंह धुरंधर